Types And Example of Cyber Crime | आजकल जिस तरह से ऑनलाइन अकाउंट हैक हो रहे है हम सोचते रह की कैसे हैक होता है आपका अकाउंट | डेबिट और क्रेडिट कार्ड फ्रॉड इससे खुद को कैसे बचाये तो आज  जानेगे कितने तरीके से आजकल लोगो को शिकार बनाते है हैकर और हैकर के इस चाल से खुद को कैसे बचा सकते है 
    Types And Example of Cyber Crime  आपका ऑनलाइन अकाउंट हैक कैसे होता है  डेबिट और क्रेडिट कार्ड फ्रॉड इससे खुद को कैसे बचाये
    Types And Example of Cyber Crime  आपका ऑनलाइन अकाउंट हैक कैसे होता है  डेबिट और क्रेडिट कार्ड फ्रॉड इससे खुद को कैसे बचाये

    अब चीज खरीदकर ठगते हैं,पहले चीज बेचकर ठगते थे

    आजकल Cyber Hacker OLX या किसी ऐसी App पर नजर रखते हैं, जहां लोग अपना सामान Online बेचते हैं। मान लो यदि आपने अपनी कोई चीज OLX या नेट पर बेचने के लिए डाली है तो आपको Hacker का Phone आएगा। वह हल्की बार्गेनिंग भी करेगा, फिर एक रेट बता देगा। आपको लगेगा कि आपकी चीज का ठीक दाम मिल रहा है। पेमेंट भेजने की बात कहकर Fraud आपसे पेटीएम या Google पे Number लेगा। कहेगा कि पहले पैसे डाल दूंगा और फिर सामान ले लूंगा। फिर दोबारा Phone आएगा कि पैसे डाल दिए हैं, आप अप्रूवल दे दें। जैसे ही आप अप्रूवल देते हैं तो उतने ही पैसे आपके Account से निकल जाते हैं। यानि असल में अप्रूवल का Message Credit का नहीं, बल्कि Debit का होता है। ट्राईसिटी में इस साल करीब 72 शिकायतें इस तरह की ठगी की आ चुकी है।

    इससे खुद को कैसे बचाये : ध्यान से देखें कि अप्रूवल वाले Message में Debit लिखा है या Credit। Debit लिखा है तो समझो सामने वाला Fraud है। उससे तुरंत बात करना बंद करें। 


    अब OTP नहीं, Link Download करवाकर करते हैं ठगी

    पहले आपके Phone पर आने वाले OTP Number की Info हासिल कर ही ठगी होती थी। अब जब लोगों में इस Crime के प्रति अवेयरनेस हुई तो क्रिमिनल्स ने भी नया तरीका शुरू कर दिया। अब क्रिमिनल आपके Number पर कोई अंजान Link भेजते हैं। इसके Download होते ही आपका Phone आरोपी Hack कर लेता है और Account की सारी Info चुराकर ठगी कर लेता है। पिछले एक हफ्ते में करीब 3 ऐसे मामले चंडीगढ़ Cyber सेल में आ चुके हैं।

    इससे खुद को कैसे बचाये : किसी तरह की थर्ड पार्टी ऐप्लीकेशन को Download और अलाओ करने से बचें। इनाम और कूपन के लालच में न आएं।

    Helpline Numbers के जरिए हो रही नई तरह की ठगी


    चंडीगढ़ पुलिस के पास पिछले एक महीने में 7 नए मामले सामने आए हैं। इसमें Google में डले Helpline Numbers के जरिए ठगी की जा रही है। क्रिमिनल्स ने Google में अपने Number एयरलाइन कंपनियों, रेलवे टिकट के Helpline Number और कई बड़ी कंपनियों के नाम पर फीड कर रखे हैं। आप किसी का Helpline Number Google में डालेंगे तो सही Number की जगह Google भी इन नटवरलालों का Number ही दिखाता है। इन फर्जी Number्स पर बात करते हैं कि आगे वाला हेल्प करने की जगह गलत सलाह देता है। आप उनके कहे पर Link Download करते हैं या फिर OTP Number बताते हैं तो तुरंत आपके Account से पैसे Fraud लिए जाते हैं।

    इससे खुद को कैसे बचाये : Helpline पर बात करते समय अपने Card और Bank Account की Detail न दें। उनके कहे Link को Download न करें। आप सीधे कंपनी की वेबसाइट खोलें और वहां से Helpline Number हासिल करें। 

    Mobile की जासूसी करते हैं पति-पत्नी

    मार्केट में कई पेड App हैं, जिससे एक-दूसरे के Phone का एक्सेस हासिल कर लिया जाता है। पति या पत्नी के Mobile में इस App को इंस्टॉल कर दिया जाता है। इससे Phone पर आप क्या बात कर रहे हैं, वॉट्सऐप पर क्या कर रहे हैं, सब कुछ App डालने वाला जान जाता है। इस जासूसी App की बिक्री पति-पत्नियों में सबसे ज्यादा है। सेक्टर-39 की एक महिला ने अपने डॉक्टर पति के खिलाफ इस तरह उनके Phone पर App डालकर जासूसी करने का केस दर्ज करवाया है। आजकल के दौर में ये App बहुत तेजी से Use हो रही हैं।

    इससे खुद को कैसे बचाये : इस तरह के App की खरीददारी न करें। यह Cyber Crime है, इसमें सजा हो सकती है। फालतू की App तुरंत डिलीट करें। इस तरह की App आपके Phone में हो सकती है तो Cyber सेल में जाकर Phone Check करवा सकते हैं।

    Phishing Fraud बुजुर्ग या कुंवारे हो रहे ज्यादा शिकार

    सबसे ज्यादा इन दिनों पिशिंग Fraud ही रहा है। इसमें बुजुर्ग, तलाकशुदा महिलाएं, कंुवारे लड़के ज्यादा शिकार बन रहे हैं। पिछले हफ्ते ही सेक्टर-34 निवासी रिजर्व Bank ऑफ India के 70 साल के रिटायर्ड मैनेजर इसका शिकार हुए। वे Facebook पर एक लड़की से चैटिंग करते थे। इस चक्कर में 15 लाख रुपए उन्होंने गंवा दिए। यह Fraud नाइजीरिया और अफ्रीकी देशों से ऑपरेट हो रहा है। इसमें Social साइट्स पर महिलाओं या लड़कों की तस्वीरें डालकर झूठे प्रोफाइल बनाए जाते हैं। लोगों को कहा जाता है कि वे शादी करना चाहते हैं। पहले Facebook पर दोस्त बनते हैं, फिर Video Call करते हैं। विदेश में बसने का झांसा देकर पैसे ऐंठने का प्रयास होता है। तब भी बात न बने तो इसके बाद मिलने का बहाना लगाते हैं। कहते हैं कि वे India आ रहे हैं। उनके लिए गिफ्ट ला रहे हैं।

    इससे खुद को कैसे बचाये : Fraud Phone करते हैं कि एयरपोर्ट पर कस्टम अधिकारियों ने पकड़ लिया है। सामान छोड़ने के लिए पैसे मांग रहे हैं। ऐसे Phone पर एक भी पैसा न दें। ये सब नकली हैं।

    Thumb Impression मांग कर Data चुरा रहे

    स्वतंत्रता दिवस की आड़ में भी Cyber Fraud नया खेल खेल रहे हैं। आजकल Social मीडिया पर स्वतंत्रता दिवस को लेकर Message चल रहा है। लोगों को कहा जाता है कि अपना Thumb Impression दें, तभी यह Message खुलेगा। आपका आधार Number, पैन, Bank Account आदि सभी बायोमैट्रिक है, इसलिए Thumb Impression देने के बाद आपका पूरा Data ठगों के पास चला जाता है। Fraud Thumb Impression को को स्कैनिंग कर आपका Data चुरा सकते हैं और आपके Bank Account को खाली कर सकते हैं।

    इससे खुद को कैसे बचाये : ऐसी किसी भी साइट पर Thumb Impression न दें। ये Message फेक होते हैं। किसी इनाम के झांसे में न फंसें।

    Fraud से बचना है तो बस इन बातों को दिमाग में रखें

    Debit और Credit Card

    अपना Card किसी के हाथ न लगने दें। बहुत से लोग Card पर Passsword लिखकर रखते हैं, यह चोरों का काम और भी आसान कर देता है। इस तरह की न करें। 
    पने Bank Account से जुड़े Number और Email को हमेशा चालू रखें और Time-Time पर Check करते रहें। 
    कोई Call करे कि वह Bank से बोल रहा है तो समझ लें कि Fraud है। क्योंकि Bank किसी Customer की कोई Detail Phone नहीं लेता।

    ATM

    ATM से पैसे निकालने से पहले जांच लें कि कोई 'स्किमर' तो नहीं है। स्वेपिंग पॉइंट के अगल-बगल हाथ लगाकर देखें और कोई चीज नजर आए तो सावधान हो जाएं। स्किमर का डिजाइन ऐसा होता है कि वह मशीन का पार्ट जैसा लगता है। KeyPad में भी स्किमर लगाया जा सकता है इसलिए उसका एक कोना दबाकर देखें, अगर की Pad में स्किमर लगा होगा तो उसका एक सिरा उठ जाएगा। 
    उसी ATM का प्रयोग करें, जहां सिक्योरिटी गार्ड हो। किसी के सामने मशीन पर अपना Card ऑपरेट न करें। 
    पेट्रोल पंप पर किसी के भी सामने अपना Card ऑपरेट न करें। फिर चाहे वह पंप का कोई मुलाजिम ही क्याें न हो। 
    ATM Card का प्रयाेग करते समय किसी अंजान से अपना OTP या PIN Number शेयर न करें। 
    शातिर लोग मदद करने के बहाने ATM में Passsword देख लेते हैं और Card बदल देते हैं। अपना Card किसी को न दें। मोहाली में ऐसे 24 मामले सामने आ चुके हैं।


    Online Sale-Purchse 

    सबसे ज्यादा केस OLX पर आ रहे विज्ञापन के हो रहे हैं। जब तक खुद खरीदने वाली चीज देख न लें, पेमेंट Online न करें। आरोपी Fraud आपको पे और पेड के चक्कर में फंसा लेते हैं। 
    अपने Phone पर आने वाले Message को पहले कई बार पढ़ें। इसके बाद ही ऑप्शन को दबाएं। 
    Online पेमेंट करते समय Message पढ़कर ही रिप्लाई करें। 


    Data Theft 

    पंपों पर मिलने वाले किसी भी प्रकार के कूपनों पर अपनी पर्सनल Detail शेयर न करें। 
    Facebook पर आने वाली अज्ञात की फ्रेंड रिक्वेस्ट एक्सेप्ट न करें। 
    कभी भी कस्टम ऑफिस आपको Call नहीं करता। यदि आपने अपने बेटे या बेटी के रिश्ते के लिए मैट्रीमोनियल साइट पर Info दी है तो आने वाले कॉलर को पहले वेरिफाई करें। बिना जांचे पर्सनल Detail शेयर न करें। 
    फिजूल की साइटें या एप को Download न करें। इनसे आपका पूरा Data आगे वाले के पास चला जाता है। 
    Email और Facebook पर आने वाले किसी अंजान Link को बिल्कुल भी क्लिक न करें। 

    Email या Social Networking Account से कैसे Hack होता है

    Email या Social Networking Account Hack होता है तो रिलेटेड वेबसाइट पर जाकर रिकवरी प्रक्रिया शुरू करें। 
    पहले अपना जरूरी Data सहेजें, ताकि और नुकसान होने से बचें। 
    अपराध कब हुआ, उसकी तारीख और समय जरूर नोट कर लें। सबूत इकट्ठे करें, जिनका इस्तेमाल कार्रवाई में होगा। 
    Facebook Account पर अश्लील टिप्पणी की गई है या कोई अश्लील Email भेजी गई है तो उसे सेव करें। क्योंकि Facebook वॉल पर की गई टिप्पणी को अपराधी हटा भी सकता है।। 
    Email Account किस आईपी एड्रेस से Hack किया गया था, उसका ब्योरा तीनों प्रमुख Email सर्विस प्रोवाइडर Google, याहू और आउटलुक (लाइव-हॉटमेल) में मौजूद रहता है। 
    Google मेल Account में सबसे नीचे दाईं तरफ लास्ट Account एक्टीविटी लिखा होता है। यहां दिए Detail Link को क्लिक करने पर यह Info उपलब्ध होगी। 
    रिलेटेड सर्विस प्रोवाइडर (Email वेबसाइट, Credit Card कंपनी, Bank, Social Networking वेबसाइट से कॉन्टैक्ट कर शिकायत करें। 
    अगर वेबसाइट Hack हुई है तो अपनी वेब होस्टिंग कंपनी से बात कीजिए। 

    साइबर क्राइम की ऑनलाइन शिकायत कैसे करें 


    अगर किसी के साथ Cyber Crime होता है तो उसको Complaints करने के लिए पुलिस के पास चक्कर लगाने की जरूरत नहीं है। Cyber Crime की अब Online Complaints भी की जा सकती है। इसके लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने cybercrime.gov.in Website लॉन्च की है। इसे Cyber क्राइम रिपोर्टिंग पोर्टल नाम दिया गया है। इसमें Cyber Crime की Online Complaints दर्ज करवा सकते हैं। Website पर Cyber Crime, ठगी, चाइल्ड पोर्नोग्राफी और रेप जैसी घटनाओं की शिकायतें दर्ज करवाई जा सकती हैं। Crime की Online Complaints के बाद गृह मंत्रालय से मामला जांच के लिए प्रदेश पुलिस को भेजा जाएगा।